जब दरवाजा खोलने गये तो चेहरे पर हसी थी, दरवाजा खोला तो आँखों में आँसू दिल में बेबसी थी, ज्यादा मत सोच पगले, मेरी ऊँगली दरवाजे में फंसी थी,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *