मीठी मीठी यादों को पलकों पे सजा लेना, साथ गुज़रे लम्हों को दिल में बसा लेना, मैं तो बरसों का प्यासा हूँ, ‘फराज़’, बिजली आ जाये तो याद से मोटर चला देना।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *