ये गंदगी तो महल वालों ने फैलाई है साहब, वरना गरीब तो सड़कों से थैलीयाँ तक उठा लेते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *